Previous
Next

Sunday, 5 April 2020

मोदी सरकार ने यह विशेष 'रणनीति' बनाई क्योंकि देश में कोरोना संक्रमण की संख्या बढ़ रही है।

मोदी सरकार ने यह विशेष 'रणनीति' बनाई क्योंकि देश में कोरोना संक्रमण की संख्या बढ़ रही है।


कोरोनावायरस देश में तेजी से विकसित हो रहा है। भारत में अब तक 83 लोगों की मौत हो चुकी है और 3577 कोरोनोवायरस से संक्रमित हैं। पिछले 24 घंटों में देश में 505 कोरोनोवायरस रोगी सामने आए हैं। इसलिए ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 275 है। कोरोनावायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए, देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन है जो 14 अप्रैल तक चलेगा। हालांकि, कुछ राज्य ऐसे हैं, जहां कोरोनस के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। इसे देखते हुए केंद्र सरकार ने एक रणनीति बनाई है।

कोरोना की बेकाबू स्थिति को देखते हुए सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक आक्रामक योजना बनाई है। जो क्षेत्र इस योजना के तहत सबसे अधिक प्रभावित है, उसे बफर जोन बनाकर पूरी तरह से सील कर दिया जाएगा। कहा जाता है कि ऐसे क्षेत्र लगभग एक महीने तक बंद रहेंगे। जैसे ही इस तरह के क्षेत्रों से कोरोना फैलने का खतरा बढ़ेगा सरकार इस रणनीति को अपनाएगी।
आपको बता दें कि अब तक 274 जिलों में कोविद -19 मामले दर्ज किए गए हैं। 22 मार्च से, कोरोना संक्रमित मामला तीन गुना हो गया है, जिसके बाद सरकार ने योजना बनाई है। 20-पृष्ठ के दस्तावेज़ में कहा गया है कि यह 'रणनीति' केवल तभी लागू नहीं होगी जब अंतिम पुष्टि परीक्षण के बाद कम से कम चार सप्ताह तक कोई नई केस रिपोर्ट COVID-19 को न भेजी जाए।

स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर जारी एक दस्तावेज़ में कहा गया है कि सभी संदिग्ध और कोरोनरी संक्रमित मरीज़ों को अस्पताल में भर्ती किया जाएगा और उन्हें अलग रखा जाएगा। मरीजों को केवल तभी छुट्टी दी जाएगी जब उनका नमूना नकारात्मक होगा। कोरोना की मामूली विशेषता दिखाने वाले लोगों को संगरोध में रखा जाएगा। जिन रोगियों में कोरोनस के कुछ और लक्षण हैं उन्हें अस्पताल में रखा जाएगा और गंभीर लक्षणों वाले लोगों को एडवांस अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा।

सरकार की योजना यह भी बताती है कि बफर ज़ोन बनाए जाने वाले क्षेत्र के सभी स्कूल, कॉलेज और कार्यालय बंद रहेंगे। इन क्षेत्रों में किसी भी सार्वजनिक और निजी परिवहन की अनुमति नहीं दी जाएगी। केवल आवश्यक सेवाओं की अनुमति होगी।
बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर लेकर आईं बड़ी खबर, कोरोना की छठी रिपोर्ट ...

बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर लेकर आईं बड़ी खबर, कोरोना की छठी रिपोर्ट ...


बॉलीवुड की मशहूर गायिका कनिका कपूर पिछले कुछ दिनों से कोरोनावायरस से पीड़ित हैं। इसके बाद उनके परीक्षण लगातार हो रहे थे। पहले चार परीक्षण उनके सकारात्मक में आए थे। लेकिन उनका पांचवां परीक्षण नकारात्मक निकला और अब यह बताया जा रहा है कि उनका छठा परीक्षण नकारात्मक आने के बाद अस्पताल से बाहर आ गया है। हालांकि, उसे अभी भी 14 दिनों के लिए संगरोध घर में रहना होगा।

इसकी पांचवीं रिपोर्ट आने के बाद, SGPGI के निदेशक प्रोफेसर आरके धीमान ने कहा कि उनकी रिपोर्ट अब नकारात्मक थी, लेकिन घर जाने की अनुमति देने से पहले एक बार फिर उनका परीक्षण किया जाएगा। 

हालांकि, अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद कनिका कपूर की मुसीबतें बढ़ने की संभावना है। कनिका के खिलाफ लापरवाही बरतने के आरोप में तीन एफआईआर दर्ज की गई हैं और अधिकारियों द्वारा खुद को अलग करने के लिए दिए गए निर्देशों के बावजूद शहर में विभिन्न सामाजिक कार्यक्रमों में भाग ले रही हैं।

कनिका कपूर के खिलाफ उत्तर प्रदेश के सरोज नगर थाने में आईपीसी की धारा 188, 269 और 270 के तहत मामला दर्ज किया गया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा इस शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गई थी। इस घातक संक्रमण के बाद वह देश की पहली बॉलीवुड हस्ती हैं।
पीएम मोदी एक और बड़ा कदम उठाने को तैयार! पूर्व पीएम-राष्ट्रपतियों को फोन।

पीएम मोदी एक और बड़ा कदम उठाने को तैयार! पूर्व पीएम-राष्ट्रपतियों को फोन।


कोरोना वायरस का समर्थन करने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी बड़े फैसले ले रहे हैं। अब उन्होंने महामारी से निपटने के लिए राजनीतिक दलों और समाज के सभी वर्गों के लोगों को एक मंच पर लाने की कोशिश की है। इसके एक भाग के रूप में, प्रधान मंत्री मोदी ने आज देश के सभी जीवित पूर्व राष्ट्रपति और प्रधान मंत्री के साथ बातचीत की।
पीएमओ सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से पहली बार बात की। इसके बाद उन्होंने उप राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल से बात की। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और एसजी देवगौड़ा से भी बात की।
इसके अलावा, प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्षी नेताओं और कई राजनीतिक दल के नेताओं के साथ बातचीत भी की। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव, तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, जनता दल के 2 अध्यक्ष और ओडिशा के सीएम और नवीन पटेल से भी बात की। उन्होंने अकाली दल के वरिष्ठ नेता प्रकाश सिंह बादल से भी मुलाकात की। 
पीएम मोदी ने कोरोना वायरस को रोकने के लिए अब तक उठाए गए कदमों के बारे में सभी को बताया और कहा कि अगर उनके पास अच्छा तरीका है, तो उन्हें इसकी जरूरत है। 8 अप्रैल को, वह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विपक्षी पार्टी के नेताओं के साथ एक और बैठक करेंगे।
कोविड-19: इस दवा पर टिकी है अमेरिका की नजर, पीएम से फोन पर ट्रंप ने की गुजारिश।

कोविड-19: इस दवा पर टिकी है अमेरिका की नजर, पीएम से फोन पर ट्रंप ने की गुजारिश।


विश्वभर में कोरोना महामारी का जाल बिछा हुआ है. इससे लड़ने के लिए कई देश एकजुट होकर इसका सामना कर रहे हैं. वहीं इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से शनिवार को फोन पर बात की. इस विस्तृत बातचीत में दोनों नेताओं ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारत- अमेरिका साझेदारी की पूरी ताकत का उपयोग करने का संकल्प लिया.

इस दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने पीएम मोदी से हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन टेबलेट की सप्लाई की गुजारिश की है. उन्होने पीएम मोदी से कहा कि इस दवा को मैं भी ले सकता हूं, मुझे डॉक्टरों से इस बारे में बात करनी होगी. सुना है ये दवा कोविड-19 की बीमारी में लाभदायक साबित हो सकती है.
इस दवा का खास असर सार्स-सीओवी-2 पर पड़ता है. यह वही वायरस है जो कोविड-2 का कारण बनता है. ये भी बता दें कि इसी आर्टिकल के हवाले से अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 21 मार्च वाला ट्विट किया था. इस बात की शुरुआत तब हुई जब 19 मार्च को द लैंसेट ग्लोबल हेल्थ में लिखे एक आर्टिकल में इस दवा के फायदे और बीमारियों से लड़ने की क्षमता के बारे में बताया गया. इस आर्टिकल मे इस बता पर जोर दिया गया कि यह दवा कोरोनो वायरस के खिलाफ एंटी-वायरल तरीके से काम करती है.
दरअसल, कोरोना वायरस से लड़ने में मदद करने वाली मलेरिया की दवा हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन के निर्यात पर भारत सरकार ने रोक लगा दी है. सरकार का कहना है कि इस दवा की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए तत्काल प्रभाव से इस पर रोक लगाना जरूरी है.
ऐसे में अमेरिका समेत अन्य देशों में इस टेबलेट की मांग बढ़ गई है. ये दवा एंटी मलेरिया ड्रग क्लोरोक्वीन से अलग दवा है. यह एक टेबलेट है जिसका उपयोग ऑटोइम्यून रोगों जैसे कि जोड़ों के दर्द के इलाज में किया जाता है, लेकिन इसे कोरोना से बचाव में इस्तेमाल किये जाने की बात भी सामने आई है.
इस बीच अमेरिका में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 3 लाख हो गई है और 8,100 से ज्यादा लोगों ने  इस बीमारी से दुनिया को अलविदा कह दिया हैं।
सेना के जाबांजों ने कुपवाड़ा में मार गिराए 5 आतंकी, 24 घंटे में 9 घुसपैठियों का किया अंत।

सेना के जाबांजों ने कुपवाड़ा में मार गिराए 5 आतंकी, 24 घंटे में 9 घुसपैठियों का किया अंत।


विश्वभर में कोरोना महामारी कम होने का नाम नहीं ले रही है तो वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है, ऐसे महामारी के समय भी वह अपने आतंकियों को तैयार कर रहा है. लेकिन भारतीय सेना उनका डट कर मुकाबला कर रही है. रविवार को जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में भारतीय जाबांजो ने पाक के पांच आतंकियों को ढेर कर दिया, जिसमें भारतीय सेना का एक जवान भी शहीद हुआ है जबकि दो अन्य जवान घायल हुए हैं।
बता दें कि कुपवाड़ा के केरन सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ करने वाले इन आतंकियों को उनके मंसूबे में कामयाब नहीं होने दिया, सेना की चुस्ती-फुर्ती के चलते उन्हें मौके पर ही जन्नत नसीब करा दी गयी. भारी बर्फबारी के कारण फिलहाल इलाके में फंसे सेना के जवानों को रेस्क्यू नहीं किया जा सका है, सेना का लगातार सर्च ऑपरेशन जारी है।
गौरतलब है कि कुपवाड़ा में आज मुठभेड़ का पांचवां दिन था। बुधवार को आतंकी एलओसी पार कर भारत के इलाके में घुस आए थे। ये आतंकी खराब मौसम और धुंध का फायदा उठाकर एलओसी पर घुसपैठ करने में कामयाब रहे । बुधवार दोपहर को ही सेना के जवानों ने इन आतंकियों को घेर लिया था। मुठभेड़ भी हुई लेकिन धुंध और बारिश का फायदा उठाकर आतंकी घेराबंदी तोड़ भाग निकले थे। सेना ने पूरे इलाके को घेरते हुए सघन तलाशी अभियान चलाया।
मिली जानकारी के अनुसार, उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सेना का एक जवान शहीद हो गया है और दो गंभीर रूप से घायल हैं। सेना ने 5 आतंकियों को भी मार गिराया। ये एलओसी से घुसपैठ कर आए थे। पिछले 24 घंटे में सेना ने कश्मीर में 9 आतंकियों को ढेर किया है। इसमें चार शनिवार को कुलगाम में मारे गए।
कोरोना के लक्षण से पहले ही चल सकेगा मरीज का पता, वैज्ञानिकों ने बनाया ये टूल।

कोरोना के लक्षण से पहले ही चल सकेगा मरीज का पता, वैज्ञानिकों ने बनाया ये टूल।


दुनियाभर के शक्तिशाली देश भी कोविड-19 के आगे नतमस्तक हो चले हैं चारों और जिधर भी सुनिएगा कोरोना का खौफ गूंज रहा है. ये वायरस तस से मस नहीं हुआ है बल्कि पूरी दुनिया में अपनी पैंठ जमा चुका है. इसकी वजह से दुनिया भर में अब तक 60 हजार लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. कई देशों में इस वायरस की वैक्सीन खोजी जा रही है।
वैज्ञानिक लगातार रिव्यू पर रिव्यू कर रहे हैं लेकिन अभी तक इसकी दवाई किसी देश के पास नहीं बन पाई है जो इस वायरस को जड़ से खत्म कर सके। इस बीच अच्छी खबर ये है कि ब्रिटेन ने इस बीमारी पर थोड़ी राहत पाली है. दरअसल वहां के वैज्ञानिकों ने कोरोना से लड़ने के लिए एक खास टेस्ट का ईजाद किया है. जो कोरोना के लक्षण आने से पहले ही मरीज की पहचान कर लेता है।
ब्रिटिश अखबार द टेलीग्राफ के मुताबिक, ब्रिटेन में न्यू कासल यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों की टीम ने इसका विकास किया है. इसे बेहद आसान तरीके से टेस्ट किया जा सकता है इसकी खास बात यह है कि ये मशीन कोरोना पॉजिटिव केस का तुरंत पता लगा लेती है आमतौर पर किसी मरीज के लक्षण दिखने में दो हफ्ते तक का वक्त लग जाता था लेकिन इस टेस्ट में लक्षण आने से पहले ही पता लगाया जा सकता है। इस टेस्ट को करने के लिए ब्लड सलाइवा और यूरिन का इस्तेमाल किया जाता है. ये बिल्कुल प्रेगनेंसी टेस्ट की तरह है।
गौरतलब है कि  कोरोना वायरस के संक्रमण ब्रिटेन में तेजी से फैल रहा है. अब तक 41 हज़ार से ज्यादा लोग इस खतरनाक वायरस की चपेट में आ गए हैं. जबकि इस बीमारी से यहां 4 हज़ार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. ब्रिटेन में एक पांच साल के बच्चा भी कोरोना का शिकार हो गया है. और आगे भी इसका प्रकोप बढ़ता जा रहा है बहरहाल वैज्ञानिकों को थोड़ी राहत हाथ लगी है कोरोना संबंधित इस मशीन को बनाकर रोगियों के लक्षणों को तुरंत पहचाना जा सकता है। प्रोफेसर कॉलिन सेल्फ का कहना है कि इस टेस्ट से काफी फायदा होगा. साथ ही कोरोना वायरस के मरीजों के बढ़ती संख्या पर नियंत्रण लगाई जा सकती है।

Wednesday, 1 April 2020

भारत की कोरोना पर दूसरी कामयाबी, इस डॉक्टर ने बनाई कोरोना की दवा, सरकार से मांगी परमीशन।

भारत की कोरोना पर दूसरी कामयाबी, इस डॉक्टर ने बनाई कोरोना की दवा, सरकार से मांगी परमीशन।


चीन, इटली और अमेरिका के बाद भारत में भी कोरोना वायरस के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. जिसकी वजह से सिर्फ सरकार ही नहीं बल्कि आम जनता भी अब जल्द से जल्द दुनियाभर के डॉक्टर्स और वैज्ञानिकों पर वैक्सीन के लिए टकटकी लगाए बैठे हैं. हाल ही में भारत के वैज्ञानिकों ने कोरोना वायरस की पहचान हासिल करने में महारत हासिल की है और अब एक डॉक्टर ने कोरोना की दवा बनाने का दावा पेश किया है साथ ही सरकार से इसके लिए परमिशन मांगी है.
बेंगलुरु के डॉक्टर का दावा
बेंगलुरु के ऑन्कोलॉजिस्ट डॉ. विशाल राव (bangalore oncologist dr vishal rao) का कहना है कि, अलग-अलग दवाओं को मिलाकर एक नई दवा तैयार की गई है और इस साइटोकाइनिज से हम एक मिश्रण बना सकते हैं. जिसे उन संक्रमित मरीजों के शरीर में इंजेक्ट किया जा सकता है. इससे उनके शरीर का जो इम्यूम सिस्टम मर चुका यानि कमजोर हो चुका है वो फिर से जिंदा हो जाएगा. जिससे संक्रमण से लड़ने में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा कि, हमने इसके रिव्यू के लिए सरकार को आवेदन किया है.
डॉ विशाल राव का ने कहा कि, इंसानों के शरीर में मौजूद कोशिकाएं वायरस से लड़ने में सक्षम होती हैं. इन कोशिकाओं में इंटरफेरॉन होता हैं वायरस से लड़ने में मदद करता है. पर जब मरीज के शरीर में कोरोना वायरस का संक्रमण होता है तो कोशिकाओं में मौजूद इंटरफेरॉन निकल नहीं पाता जिससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती चली जाती है और वायरस का असर शरीर में तेजी से बढ़ता चला जाता है.
वैक्सीन नहीं सिर्फ मिश्रण
डॉ. राव का कहना है कि, जो शोध हमने किया है उससे हमें पता चला कि, इंटरफेरॉन कोरोना वायरस से लड़ने में भी काफी मददगार हैं और इसी के लिए हमने साइटोकाइन्स का एक मिश्रण तैयार किया है जिसे मरीज के शरीर में इंजेक्ट किया जाएगा. पर ये कोई वैक्सीन नहीं है ये सिर्फ एक मिश्रण है जिससे मरीजों को बचाया जा सकता है और संक्रमण से बचाव किया जा सा सकता है.
भारत में फैल रहा है वायरस
कोरोना वायरस से बचने के लिए भारत को लॉकडाउन किया गया है इसके बावजूद कुछ लोग इस वायरस को अब भी गंभीरता से नहीं ले रहे हैं, जिसका नतीजा ये कि, अब मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. हालांकि, देश में 50 से ज्यादा मरीज ठीक भी हो चुके हैं. पर अब भी हमें सतर्क रहना बहुत जरूरी है. जब तक संक्रमण की चेन नहीं टूटेगी तब तक हम सबके जीवन पर सकंट गहराता रहेगा.
कोरोना वायरस एक इंसान को कितने दिन में अपनी चपेट में ले लेता है, जानिए यहां सब कुछ।

कोरोना वायरस एक इंसान को कितने दिन में अपनी चपेट में ले लेता है, जानिए यहां सब कुछ।

 

अभी पूरी दुनिया में कोरोना का कहर अपने चरम पर पहुंच चुका है। दुनियाभर में 7 लाख से भी अधिक लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं। वहीं, बात अगर भारत की करें तो यहां पर भी कोरोना का कहर जारी है। यहां पर भी 1200 से अधिक लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं। मौत का आंकड़ा 30 के पार पहुंच चुका है। आलम यह है कि इस वायरस की वजह से लोग अब खौफ के आलम में जीने को मजबूर हो चुके हैं। ऐसी स्थिति में अब हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर एक इंसान को कोरोना वायरस कितने दिन में अपनी चपेट में ले लेता है। कोरोना को कितना समय लगता है कि किसी इंसान को अपनी गिरफ्त में लेने में। बता दें कि चीन के द्वारा जारी किए गए ज्यादातर रिपोर्ट में इस बात का दावा किया गया है कि एक इंसान को कोरोना अपनी चपेट में 8 से 9 में पूरी तरह से ले लेता है।

पहला दिन: पहले तो तेज बुखार होता है। इसके बाद सुखी खांसी होती है। कई मामलों में ऐसा भी देखा गया है कि शरीर में दर्द भी होने लगता है। गले में सूजन होने लगती है। मांसपेशियों में दर्द शुरू हो जाता है।
पांचवा दिन: इसके बाद पांचवे दिन आते-आते मरीज को सांस से संबंधित समस्याएं होने लगती है। खासतौर से  बुजुर्गों में यह समस्या गंभीर हो सकती है। इसके इतर जो पहले से ही किसी बीमारियों से जूझ रहे हैं, उन्हें इस दौरान काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
सांतवा दिन: इसके बाद सांतवे दिन आते-आते लोगों की समस्याएं गंभीर हो जाती है। डॉक्टर की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन में अधिकांश लोगों ने सांतवे दिन में डॉक्टर को सूचित किया, जिसकी वजह से कहीं न कहीं संक्रमितों की संख्या में इजाफा देखने को मिला है।
आठवा दिन : वहीं आठवा दिन आते-आते मरीज के फेफड़े में बलगम आने लगता है। मांसपेशियों में दर्द भी बढ जाता है, जिसके चलते मरीजों को अत्याधिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है।  किसी भी इंसान में कोरोना वायरस का लक्षण दिखने  में 2 से 10 दिन का समय लगता है।
यहां पर हम आपको बताते चले कि अगर आप कोरोना वायरस को मात देना चाहते हैं तो आपको साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना होगा, लिहाजा अपने आसपास साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। खांसते समय मुंह पर टिशू  पेपर जरूर रखे। वहीं, अपने हाथ 20 सैंकड तक अच्छे से धोए।
1 अप्रैल से बदल गए ये 7 बड़े नियम, आम आदमी की जेब पर पड़ा सीधा असर।

1 अप्रैल से बदल गए ये 7 बड़े नियम, आम आदमी की जेब पर पड़ा सीधा असर।


देश में 1 अप्रैल यानी की आज से नए वित्त वर्ष की शुरुआत हो चुकी है। जिस वजह से देश में कई नियमों पर भारी असर पड़ा है। बैंकिंग सेक्टर से लेकर इनकम टैक्स के सेक्टर में बड़े बदलाव हुए है। जिस वजह से आम लोगों की जिंदगी पर सीधा असर पड़ेगा। कई जगहों पर आम आदमी को काफी फायदा मिला है लेकिन कई जगहों पर आम आदमी को झटका भी है। तो आइए आज हम आपको उन 7 बड़े बदलावों के बारे में बताते है। जिसका सीधा असर आपकी जेब पर होगा।
बैंकों का विलय
एक अप्रैल से देश के बड़े बैंको का मर्जर हो रहा है। जिस वजह से 6 बैंक पूरी तरह बंद हो जाएंगे और अब सरकारी बैंकों की संख्या सिर्फ 12 रह जाएगी। बैंक के विलय के तहत ओरिएंटल बैंक ऑफ कामर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का विलय पंजाब नेशनल बैंक में मिल जाएंगे। इसी तरह सिंडिकेट बैंक का केनरा बैंक विलय किया जा रहा है। आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में मर्ज किया गया है। इतना ही नहीं, इलाहाबाद बैक को इंडियन बैंक में मिलाया गया है। बैंकों वियल के बाद अब ग्राहकों के बैंक अकाउंट से लेकर तमाम डिटेल जल्द ही बदल जाएगी।
नया इनकम टैक्स सिस्टम यही
नए साल के साथ सरकार ने भी नए इनकम टैक्स सिस्टम को लागू किया है। ये नया सिस्टम 1 अप्रैल से ही लागू हो गया है। नई इमकम टैक्स व्यवस्था में आम आदमी को काफी नुकसान होने वाला है क्योंकि इस व्यवस्था में कोई भी छूट और लाभ नहीं मिलेगा। हालांकि ये व्यवस्था वैकल्पिक है यानी की अगर करदाता चाहे तो पुराने सिस्टम से भी टैक्स दे सकते है। टैक्स स्लैब के मुताबिक साला 5 लाख रुपये कमाने वाले व्यक्ति को टैक्स नहीं देना होगा। 5 से 75 लाख रुपये सालाना कमाने वाले को 10% टैक्स देना होगा। वही 7.5 से 10 लाख कमाने वाले को 15% टेक्स चुकाना होगा। और 10 लाख रुपये से 12.5 लाख रुपये पर 20%, 12.5 लाख रुपये से 15 लाख रुपये की आय पर 25% और 15 लाख रुपये से अधिक की आय पर 30% की दर से कर लगेगा ।
रिटायरमेंट के 15 साल बाद पूरी पेंशन का प्रावधान
नया वित्त वर्ष पेंशनधारकों के लिए खुशखबरी लाया है। 1 अप्रैल को EPS पेंशनर्स को ज्यादा पेंशन मिलेगी। इसके तहत अब रिटायरमेंट के 15 साल बाद पूरी पेंशन मिलेगी। ये नियम साल 2009 में खत्म कर दिया था लेकिन सरकार ने फिर से इसे शुरू कर दिया है। इसके अलावा ईपीएफ स्की0म के तहत पीएफ खाताधारकों के लिए पेंशन के कम्यूटेशन यानी एकमुश्त आंशिक निकासी का प्रावधान भी अमल में आ गया है।
मोबाइल होगा महंगा
आने वाले समय में अब आपको मोबाइल के लिए भी ज्यादा पैसे चुकाने होंगे। नए वित्त वर्ष में मोबाइल की जीएसटी दरों में बढ़ोतरी की है। जिसके बाद अब मोबाइल के लिए 12 फीसदी की जगह 18 फीसदी की दर से टैक्स लगेगा। नई कीमते 1 अप्रैल से लागू हो गई है।
विदेशी टूर पैकेज के लिए TCS
आज से विदेश जाना भी महंगा हो गया है। यहां तक की विदेश में कोई भी फंड खर्च करना भी महंगा हो गया है। अगर अब विदेशी टूर पैकेज खरीदता है या फिर विदेशी करेंसी एक्सचेंज करता है तो 7 साल से ज्यादा रकम पर टैक्स कलेक्शन एट सोर्स यानी TCS देना होगा।
रसोई गैस
1 अप्रैल से रसोई गैस की कीमतों में भी भारी गिरावट हुई है। सरकार के बाद अब तेल कंपनियों ने भी रसोई गैस के दाम कम किए है। कंपनी ने रसोई गैस की कीमतों में 61 रुपये की कटौती की है। जिसके बाद चारों महानगरों मं घरेलू गैस सिलेंडर की कीमतों में 61 रुपए प्रति सिलेंडर से लेकर 65 रुपए प्रति सिलेंडर तक कटौती की है।
डिविडेंड डिस्ट्रीब्यूशन टैक्स में बदलाव
आज से डिविडेंड डिस्ट्रीब्यूशन टैक्स (DDT) के नियम में बदलाव होने जा रहा है । 1 अप्रैल के बाद से भारतीय कंपनियों के दिए गए डिविडेंड पर DDT नहीं लगेगा।

Sunday, 29 March 2020

Corona virus kya hai ? Corona virus k lakshan kya hai?

Corona virus kya hai ? Corona virus k lakshan kya hai?

corona virus kya hai in hindi, corona virus kya hai in urdu, coronavirus kya hai, corona virus kya hota hai, coronavirus kya hai in hindi, corona virus ka kya matlab hai, coronavirus me kya hota hai, coronavirus ka treatment kya hai, coronavirus ka ilaj kya hai,coronavirus ka upay kya hai,corona virus kya hai,corona virus,corona virus in india,corona,corona virus ke lakshan,corona virus kya chij hai,corona virus kya hai in hindi,corona virus ke lakshan kya hai,corona virus kaha se aya hai,hanta virus kya hai,coronavirus kya hai,corona virus kaha se,corona virus ke bachaa,corona virus ki dwai,corona virus kaha se aaya,hantavirus kya hai,corona virus hindi

Corona virus kya hai hindi me?

Corona virus (Coronavirus disease - COVID-19) k sankraman se mrne wale logo ki sankhya 30,943  ho gyi hai. WHO ne ise mahamari ghoshit kr diya hai. Corona virus k sankraman ko felne se rokne k liye iske lakshno ko pehchanana behad jruri hai. Lakshno ko pehchan kar hi corona virus ko kabu me kiya ja skta hai. 



Corona virus k lakhsan or usse bchao k upay



Corona virus ka mukhy lakhsan tez bukhar hai. Bchho or vyshko me agar 100 degree farenhite ya isse uapar pahuchta hai tbhi yh chinta ka vishay hai.
WHO k mutabik corona virus se sankramit hone par 88 fisdi ko bukhar, 68 fisdi ko khansi or kaf, 38 fisdi ko thkan, 18 fisdi ko sans lene me taklif, 14 fisfi ko sharir or sir me dard, 11 fisdi ko thand lgna or 4 fisdi me dairiya k lakshan dikhte hai. Running nose yani nak behna corona virus ka lakshan nahi mana ma rha hai.

Aayiye jante hai ki is virus k lakshan or bchao k trike Kya hai.





  1.  Corona virus kya hai?

    Corona virus ka sambandh virus k ese pariwar se hai, jiske sankraman se jukham se lekar sans lene me taklif jesi samshya ho sakti hai. Is virus ko phle kbhi nhi dekha gya hai. Is virus ka sankraman December me china k wuhan me shuru hua tha. WHO k mutabik, bukhar, khansi, sans lene me taklif iske lakhsan hai. Ab tak is virus ko felne se rokne wala koi tikka nhi bna hai.
  2.  kya hai is bimari k lakshan? 

    iske lakhsan flu se milte julte hai. Sankraman k falswarup bukhar, jukham, sans lene me taklif, nak behna or gle me kharas jesi shamsya hai. Yh virus ek vykti se dusre vykti me felta hai. isliye ise lekar bahut savdhani barti ja rahi hai. Kuch mamlo me corona virus ghatak bhi ho sakta hai. Khas tor par adhik umr k log or jinhe phle se ashthma, diabetes or heart ki bimari hai.
  3. Kya hai corona virus se bchao k upay?

    Svasthy mantralay ne corona virus se bchne k liye dishnirdesh jari kiye hai. inke mutabik, hathon ko sabun se dhona chahiye. Alcohol aadharit hand rub ka isteman bhi kiya ja sakta hai. Khanste or chinkte samay nak or muh ruman ya tissue paper se dhakakar rkhe. Jin vyktiyo me cold or flu k lakshan ho unse duri bnakar rkhe. Ande or mams k sevan se bche. Jangli janwar k sampark me aane se bche.



Tags:- 



corona virus kya hai in hindi, corona virus kya hai in urdu, coronavirus kya hai, corona virus kya hota hai, coronavirus kya hai in hindi, corona virus ka kya matlab hai, coronavirus me kya hota hai, coronavirus ka treatment kya hai, coronavirus ka ilaj kya hai,coronavirus ka upay kya hai,corona virus kya hai,corona virus,corona virus in india,corona,corona virus ke lakshan,corona virus kya chij hai,corona virus kya hai in hindi,corona virus ke lakshan kya hai,corona virus kaha se aya hai,hanta virus kya hai,coronavirus kya hai,corona virus kaha se,corona virus ke bachaa,corona virus ki dwai,corona virus kaha se aaya,hantavirus kya hai,corona virus hindi


Wednesday, 25 March 2020

Adobe Photoshop 2020 : Unique Shape & Color Gradient Fashion Banner in Photoshop CC

Adobe Photoshop 2020 : Unique Shape & Color Gradient Fashion Banner in Photoshop CC


#Adobe #Photoshop #Ecommerce #Banner #Socialmedia #Banner  #Poster
This tutorial is on about new graphic design and technique acoording to trending in market as ECOMMERCE by #CoreEditor. Today we are going to learn how to create a professional Ecommerce Banner / Poster for your personal use or for your client using Photoshop CC. In this video you will learn that how to use this effect in any Ecommerce banner.








Download File :
Poster Files



Friday, 20 March 2020

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Ecommerce Banner / Poster in Photoshop CC

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Ecommerce Banner / Poster in Photoshop CC


#Adobe #Photoshop #Ecommerce #Banner #Socialmedia #Banner  #Poster
This tutorial is on about new graphic design and technique acoording to trending in market as ECOMMERCE by #CoreEditor. Today we are going to learn how to create a professional Ecommerce Banner / Poster for your personal use or for your client using Photoshop CC. In this video you will learn that how to use this effect in any Ecommerce banner.








Download File :
Poster Files



Thursday, 5 March 2020

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Fashion Product Banner / Poster in Photoshop CC

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Fashion Product Banner / Poster in Photoshop CC


This tutorial is about new graphic design and technique according to trending in the market as FASHION by #CoreEditor. Today we are going to learn how to create a professional Fashion Product Banner / Poster for your personal use or for your client using Photoshop CC. In this video, you will learn how to use this effect in any Fashion banner.







Download File :
Poster Files



Sunday, 23 February 2020

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Tech Product Banners / Poster in Photoshop CC

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Tech Product Banners / Poster in Photoshop CC


This tutorial is about new graphic design according to trending in the market as TECH by #CoreEditor. Today we are going to learn how to create a professional Tech Banner / Poster for your personal use or for your client using Photoshop CC.







Download File :
Poster Files



Monday, 17 February 2020

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Quote Banners in just 2 Minutes in Photoshop

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Quote Banners in just 2 Minutes in Photoshop



#2Minutes Tutorial is new graphic design series by #CoreEditor. Today we are going to learn how to create modern corporate banner / Poster in just 2 Minutes using Photoshop CC.





Download File :
Poster Files




Sunday, 16 February 2020

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Action or Any Movie Poster in Photoshop

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Action or Any Movie Poster in Photoshop



Learn how to design a Action or Any Movie Poster with using a professional font in Adobe Photoshop 2020 as Social Media Banner/Poster.
#Photoshop #Action #Movie  #adobe #Socialmedia #banner #poster



Download File :
Poster Files



Adobe Photoshop 2020 : How to Design Cricket or Sports Poster in Photoshop.

Adobe Photoshop 2020 : How to Design Cricket or Sports Poster in Photoshop.



Learn how to design a Sports Poster with adjusting a professional font in Adobe Photoshop 2020 as Social Media Banner/Poster. #Photoshop #Sports #cricket #viratkohli #adobe #Socialmedia #banner #poster




Download File :
Poster Files



Adobe Photoshop 2020 : How To Remove Backgroung in 1 Minute Only Easy & Quickly!

Adobe Photoshop 2020 : How To Remove Backgroung in 1 Minute Only Easy & Quickly!



Here with the help of this video we are trying to explore the Real and Amazing Power of the Background Eraser Tool in Adobe Photoshop. Learn free how to remove the background of any photo in just 1 minute by following these few simple steps only.

Whether you want to change the background or make it transparent, the Background Eraser can help you not only remove the background bust also create a refined mask. Cutting out an image can be great for editing an outro, making a thumbnail and so many other reasons like cutting out an object from a picture to add to your YouTube banner.





Download File :
Poster Files



बिग बॉस 13: क्या शहनाज की वजह से विनर बने सिद्धार्थ शुक्ला, देखें ये 5 बड़ी वजह।

बिग बॉस 13: क्या शहनाज की वजह से विनर बने सिद्धार्थ शुक्ला, देखें ये 5 बड़ी वजह।


बिग बॉस 13 (BiggBoss13) का वो पल जिसका सबको 4 महीनों से इंतजार था। बिग बॉस 13 के विनर को शो के होस्ट सलमान खान (salman khan) ने अपने हाथों से चमचमाती ट्रॉफी दी। वैसे शो के विनर के बारे में तो पहले से ही कयास लगाए जा रहे थे कि, सिद्धार्थ शुक्ला सीजन 13 के विनर (winner siddharth shukla) बन सकते हैं। लेकिन, शो के आखिरी में आसिम रियाज (asim riaz) और शुक्ला के बीच कड़ी टक्कर भी देखने को मिली। जिससे ये मुकाबला और भी दिलचस्प हो गया। पर सिद्धार्थ शुक्ला इस शो के विनर क्यों बने? ऐसी क्या वजह रही जिस वजह से शुक्ला को ही जनता ने सबसे ज्यादा वोट दिए वो हम आपको इस लेख में बता रहे हैं।



टीवी का फेमस चेहरा
बिग बॉस में आने से पहले ही सिद्धार्थ शुक्ला टीवी इंडस्ट्री के फेमस चेहरे में शामिल रहे हैं। लोगों के बीच सिद्धार्थ की छवि एक संस्कारी बेटे और पति के रूप में बनी हुई थी। वैसे सिद्धार्थ को सबसे अच्छी पॉपुलैरिटी ‘बालिका वधू’ सीरियल से मिली। इस सीरियल में उनके किरदार को काफी सराहा गया था। इसके बाद सिद्धार्थ ने कई सीरियल में काम किया और साथ ही बॉलीवुड में भी अपनी किस्मत आजमाई। इसके अलावा सिद्धार्थ ‘झलक दिखला जा’ सीजन 6 और ‘फियर फैक्टर: खतरों के खिलाड़ी’ सीजन 7 में भी नजर आए। यही कारण रहा कि, अधिकतर लोग सिद्धार्थ को जानते थे और इसी का फायदा उन्हें बिग बॉस में भी मिला।
अफेयर के किस्से
जहां एक तरफ सिद्धार्थ ने टीवी शोज से सुर्खियां बटोरीं तो दूसरी तरफ सिद्धार्थ अपने अफेयर के कारण भी काफी सुर्खियों में रहे। सिद्धार्थ का उनकी को-स्टार रश्मि देसाई के साथ अफेयर की खबरों ने खासा तूल भी पकड़ा था। वहीं बिग बॉस के घर में आने से पहले ऐसी भी खबरें सामने आई थी कि, सिद्धार्थ आरती सिंह को भी डेट कर चुके हैं। इसके बाद जब बिग बॉस में शेफाली जरीवाला आई तो उन्होंने भी शुक्ला संग रिलेशन की बातें कही। सबसे ज्यादा तो बिग बॉस में आने के बाद सिद्धार्थ शुक्ला को कलर्स की टीम में काम करने वाली महिला की वजह से काफी पॉपुलैरिटी मिली क्योंकि, ऐसा पूरे शो में कहा जाता रहा कि वह उनके साथ रिलेशन में है।
रश्मि से नोंकझोंक
एक समय में रश्मि-सिद्धार्थ शुक्ला रिलेशन (rashmi desai and siddharth) में थे। पर जब दोनों ने बिग बॉस के घर में एंट्री ली तो दोनों के बीच काफी झगड़े हुए या कह लीजिए कि रिश्ता टूटने की कसक दोनों के दिल में थी इस वजह से अक्सर दोनों लड़ाई करते हुए देखे गए। हद तो तब हो गई जब रश्मि ने सिद्धार्थ पर चाय फेंक दी। पर धीरे-धीरे दोनों का ये झगड़ा प्यार में भी बदलता हुआ नजर आया। बिग बॉस के घर में एक टास्क हुआ जब दोनों के बीच रोमांस भी देखने को मिला। जिसकी तारीफ दर्शकों ने भी की। वहीं फिनाले में खुद सलमान खान (salman khan) बोले कि, दर्शकों ने रश्मि और सिद्धार्थ की जोड़ी को खूब पसंद किया है। इसी वजह से सिद्धार्थ जहां शो के विनर पहुंचे तो रश्मि फिनाले तक पहुंची।
घरवालों के निशाने पर रहे सिद्धार्थ
वैसे जब सिद्धार्थ शुक्ला ने शो में एंट्री की थी तो पहले से ही वो विवाद में बने रहे थे और घर में उनकी बाकी कंटेस्टेंट के साथ कई बार विवाद देखे गए थे। अक्सर शुक्ला और आसिम रियाज के बीच तीखी बहस देखने को मिलती थी। तो वहीं विशाल आदित्य सिंह (Vishal Aditya Singh) से तो शुक्ला का आकंड़ा 36 का था। सिद्धार्थ को हमेशा घरवालों के निशाने पर रहना एक बार सलमान को भी खटका था और उन्होंने कहा था कि, आप हमेशा शुक्ला को टारगेट क्यों करते हैं? और माना जा रहा है कि, इसका फायदा शुक्ला को गेम जीतने में मिला। क्योंकि, बिग बॉस के फैन ये बात जान गए थे कि, अगर सिद्धार्थ घर में नहीं होंगे तो घर के किसी भी सदस्य की दाल नहीं गल पाएगी।



‘सिडनाज’ की जोड़ी
इस बात को खुद सिद्धार्थ भी जानते हैं कि, शो का विनर बनाने में शहनाज गिल (shehnaz gill) का सबसे बड़ा योगदार रहा है। क्योंकि, शो में शहनाज और सिद्धार्थ (shahnaz gil siddharth) की जोड़ी को फैंस काफी पसंद करते थे और उनकी जोड़ी ने दर्शकों को दीवाना बना लिया था। घर में कई बार दोनों के बीच प्यार देखने को मिला। कई बार शहनाज ये कहती भी नजर आई कि, अगर कोई हम दोनों के बीच में आया तो उसे मैं फाड़ कर रख दूंगी। क्योंकि, मैं यहां शो जीतने नहीं बल्कि तुम्हें जीतने आई हूं। शहनाज के इसी प्यार और सिद्धार्थ शुक्ला की समझदारी को देखते हुए फैंस ने उनकी जोड़ी को ‘सिडनाज (sidnaaz)’ का नाम दे दिया और बन गए शुक्ला शो के विनर।
Sing is Bling Ke Sabhi Actor Ka Naam.

Sing is Bling Ke Sabhi Actor Ka Naam.


सिंह इज़ ब्लिंग 2015 की एक भारतीय हिंदी-भाषा की एक्शन कॉमेडी फिल्म है, जो प्रभु देवा द्वारा निर्देशित है और अश्विनी यार्डी और जयंतीलाल गाडा द्वारा चराई बकरी पिक्चर्स और पेन इंडिया लिमिटेड के बैनर के तहत बनाई गई है।  फिल्म में अक्षय कुमार, एमी जैक्सन, लारा दत्ता और के के मेनन प्रमुख भूमिकाओं में हैं।

Singh Is Bling Cast
























































Singh Is Bling Crew


















Banner
Pen India Pvt. Ltd

Grazing Goat Productions

Director
Prabhu Deva

Produced By
Ashvini Yardi

Music Director
Sajid Ali

Wajid Ali

Meet Bros Anjjan

Manj Musik

Sneha Khanwalkar

Sound
Jagmohan Anand

Costume
Esha Amin

Music Company
Zee Music

Choreographer
Ganesh Acharya

Vishnu Deva

Caesar Gonsalves

Chinni Prakash

Rekha Chinni Prakash

Genre
Comedy